प्रदेश में धान की खरीद के रिलीज ऑर्डर खुले किए जाने को लेकर भाकियू ने सौंपा मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन

Loading

नकली तौर पर जे फार्म कटने से सरकार का हो रहा करोडों रूपए का नुक्सान
कुरुक्षेत्र /बाबैन : 24 सितंबर : राकेश शर्मा  : प्रदेश में धान की खरीद के रिलीज ऑर्डर खुले किए जाने की मांग को लेकर भारतीय किसान युनियन के पदाधिकारियों व किसानों ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन नायब तहसीलदार साहब ङ्क्षसह के आदेशानुसार पटवारी प्रवीन कुमार को सौंपा। जिला प्रधान कृष्ण कुमार कलालमाजरा ने कहा कि एक ओर तो सरकार मंडियों को ऑन लाईन करने की बात करती है ताकि दूसरे प्रदेशों के व्यापारी हरियाणा के किसान की फसल खरीद सके। जबकि अधिकारियों की मिलीभगत से धान एक जिले से दूसरे जिले में जाने नहीं दिया जाता। इस तरह की पांबदी क्यूं? रिलीज आर्डर खुले न किए जाने पर किसान का नुक्सान होगा। इसलिए मंडी क्षेत्र की शर्त हटाकर प्रदेश के रिलीज आर्डर खुले किए जाऐं। इससे सरकार का भी कोई नुक्सान नहीं है और प्रदेश की मंडीयों में हो रही किसानों से लुट से भी निजात मिलेगी । उन्होंने कहा कि मंडियों में शैलर मालिक खरीद अधिकारियों से मिलकर नकली तौर पर जे फार्म काटते हैं और सरकार से किसानों का नाम दिखाकर नगद राशि ले ली जाती है उसके बाद अन्य प्रदेशों से चावल की ससती खरीद करके सरकारी केंद्र पर दे देते हैं और इस तरह मंडी व शैलर में चावल आए बिना ही कागजों में सारा मामला पूरा कर दिया जाता है। इसके नाम पर आढत व अन्य खर्चे भी सरकार से वसूल कर लिए जाते हैं और सरकार को भी करोडों रूपए का नुक्सान पहुंचता हैं। उन्होंने कहा कि कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के आंकडों के अनुसार रिकार्ड का मिलान किया जाए कि प्रदेश के किसान ने कितना धान लगाया है और मंडियों में कुल कितना धान आया है ओर यह जांच करने से एक बहुत बडा घोटाला उजागर होगा। इस प्रणाली पर जल्द ही सिकंजा नहीं कसा गया तो इस बार भी सरकार को राईस मिलरों द्वारा करोडों रूपए का चुना लगाया जाएगा। इस अवसर पर मंडल प्रधान बलकार सिंह , ब्लॉक प्रधान लाल सिंह , शिव कुमार कलालमाजरा, ज्ञान सिंह  हमीदपुर, जयपाल गुढा, अजमेर सिह  खिडकी, गुरदयाल सुरजगढ, सोरण सिंह  धनानी, राजेंद्र गुढी, सतबीर घीसरपडी, राजेंद्र नखरोजपुर व अन्य किसान मौजूद रहे।
=======================================

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

61504

+

Visitors