अवि भसीन ने चाईनिज राखियों व चीनी उत्पादों का इस्तेमाल न करने का किया आह्वान

Loading

चंडीगढ़ : 06 अगस्त : आरके विक्रमा शर्मा ;— चंडीगढ़ इंडस्ट्रीज यूथ एसोसिएशन के अध्यक्ष अवि भसीन ने व्यापारी भाईयों और शहरवासियों को आपसी सौहार्द तथा भाई-चारे से ओत-पोत रक्षा बंधन के त्योहार की हार्दिक शुभकामनाएं व बधाई दी।
साथ ही उन्होंने देशवासियों से चीनी उत्पादों व चीनी राखियों का इस्तेमाल न करने का आह्वान किया।

सिया के अध्यक्ष अवि भसीन ने कहा कि रक्षाबंधन सामाजिक, पोराणिक, धार्मिक तथा ऐतिहासिक भावना के धागे से बना एक ऐसा पवित्र त्योहार बंधन है जिसे जनमानस में रक्षाबंधन के नाम से पावन मास की पूर्णिमा को भारत में ही नहीं वरन् नेपाल तथा बाहर के देशों में भी बहुत उल्लास एवं धूम-धाम से मनाया जाता है। सम्पूर्ण भारत में बहन की रक्षा का वचन देता भाईयों का प्यार भरा उपहार है, रक्षाबंधन का त्योहार।

उन्होंने कहा कि आज के आधुनिक तकनीकी युग का प्रभाव राखी जैसे त्योहार पर भी पड़ा है। लोग स्वदेशी राखी को छोड़ विदेशी राखियों की ओर ज्यादा आकर्षित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि बड़े ही दुख की बात है कि हमारे पड़ोसी देश चीन में भारतीय त्योहार कोई नहीं मनाया जाता लेकिन प्रत्येक त्योहार में सामान चीन का खरीदते हैं। चीन में होली नहीं मनाई जाती लेकिन गुलाल चीन का खरीदते हैं, दिवाली चीन में नहीं मनाया जाता लेकिन लाईटें और पटाखे चीन के खरीदते हैं इसी तरह राखी चीन में नहीं मनाई जाती लेकिन राखियॉं चीन की बनाई हुई खरीदते हैं। आज हमें एक संकल्प लेने की आवश्यकता है अपने सच्चे भारतीय होने का सबूत दें कि कोई भी त्योहार पर चीन का बनाया हुआ सामान नहीं खरीदेंगे। जो चीन बार-बार हमें ऑंखे दिखाता है हमारी धरती पर पैर रखने की कोशिश करता है उसे वैसे ही कमजोर बना दें। उन्होंने कहा कि सोने चांदी से बनी राखी की कोई कीमत नहीं है कीमत है तो भावना की।
अवि भसीन ने एक बार फिर शहरवासियों को राखी की बधाई प्रदान करते हुए कहा कि यह पावन पर्व अपके जीवन में खुशीयॉं ही खुशीयॉं लाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

61501

+

Visitors