शहीद मदनलाल की अरदास पर पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

Loading

Alpha News Indiaपठानकोट ; 3 अक्टूबर ; कँवल रन्धावा ;  नोगाम में आतंकी घुसपैठ  को नकाम करते हुए शहीद हुए मदन लाल को आज उनकी अंतिम अरदास पर  श्रदांजलि देने के लिए पहुंचे कमांडिंग ऑफिसर नाइन ऍफ़ ओ डी भी पहुंचे !  शहीद मदनलाल की अंतिम अरदास पर  हिन्दोस्तान जिन्दावाद और पाकिस्तान मुर्दावाद के नारे ने एक बारगी तो महौल में खूब जोश भर दिया सब के चेहरे तमतमा उठे और हर होंठ हिंदुस्तान जिन्दावाद बोलने को ललक  पड़ा !     
              घुसपैठियों को नाकाम करने वाले शहीद मदनलाल की अरदास पर पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे और हिंदुस्तान जिंदाबाद के जयघोष के बीच अरदास श्रंद्धांजलि सम्पन्न हुई ! -कुछ दिन पहले नोगाम गांव में आतंकियों की घुसपैठ को रोकते हुए पठानकोट के गाँव गरोटा के  देशभक्त मदन लाल शहीद हो गए थे ! जिनकी अंतिम अरदास  उनके गांव में सम्पन्न हुई ! शहीद मदन लाल को श्रदांजलि देने के लिए कमांडिंग ऑफिसर [नाइन ऍफ़ ओ डी ब्रिगेड] विशेष तौर  पर अरदास में शिरकत करने पहुंचे !  इस मोके पर शहीद परिबारों के सदस्य भी इस अंतिम अरदास पर श्रदांजलि के पुष्प अर्पित करने के लिए पहुंचे ! जिन्होंने मदन लाल के परिबार का सम्मान भी किया ! इस मौके  पर हिन्दोस्तान जिन्दावाद और पाकिस्तान मुर्दावाद के नारे गूंजे, तो शहीदों के एकत्रित हुए परिवारजन भी जोश से हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे लगाते देखे गए ! -इस अवसर पर शहीद परिवार सुरक्षा परिषद के सदस्यो और शहीद मदन लाल की माता ने कहा कि  पकिस्तान में घुस कर जो भारतीय सेना ने आतंकियो को मार गिराया है ! वो  शहीद परिबारों के जख्मो पर मरहम लगाने जैसा है !  इस से हमें लगता है कि  भारत सरकार ने मदन लाल और उरी हमले में शहीद हुए जबानो की शहादत का बदला ले लिया है ! इस अवसर पर  अरदास में उपस्थित होने आये कमांडिंग ऑफिसर जे एस राठौर ने कहा कि  हमारी फ़ौज हर एक शहीद परिबार के साथ है !  और इन परिबारों को अगर कोई भी परेशानी हो तो वो सेना के अधिकारियों को कह सकते है ! 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

60985

+

Visitors