248.48 करोड़ की नौ योजनाएं मंजूर : विपुल गोयल

Loading

चंडीगढ़ : 17 फरवरी ; अल्फ़ा न्यूज इंडिया ;—-प्रदेश में उद्योग को बढ़ावा देने और निवेश आकर्षित करने के लिए सरकार भरपूर कोशिश कर रही है। इसके लिए इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास पर खासा जोर दिया जा रहा है। सड़क, बिजली और माल ढुलाई के क्षेत्र में प्रदेश की बीजेपी सरकार लगातार और सार्थक प्रयास कर रही है। इसी कड़ी में ASIDE योजना के तहत स्टेट लेवल एक्सपोर्ट प्रमोशन कमिटी ने 9 योजनाओं को मंजूरी दे दी है। इन 9 योजनाओं के पूरा होने में 24849.39 लाख रुपए की लागत आएगी। सभी 9 योजनाओं पर आने वाली लागत इंडस्ट्रीज डिपार्टमेंट वहन करेगा। चीफ सेक्रेट्री, हरियाणा की अध्यक्षता में हुई बैठक में ये अहम फैसला किया गया। इनमें से एक प्रोजेक्ट का प्रस्ताव म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन, पानीपत ओर से आया था, जबकि एक प्रोजेक्ट HUDA से प्रस्तावित था। बाकि 8 प्रोजेक्ट्स के प्रस्ताव HSIIDC की ओर से आए थे।
                                      प्रोजेक्ट का नाम                              लागत (करोड़ में)
1.       रोड का अपग्रेडेशन, सेक्टर 29, पार्ट 2, HUDA, पानीपत                                  8.57
2.       सीवरेज सिस्टम का अपग्रेडेशन, सेक्टर 29, पार्ट 2, HUDA, पानीपत            22.00
3.       नाथूपुर इंडस्ट्रीयल एरिया में इंफ्रास्ट्रक्चर अपग्रेडेशन, सोनीपत                  25.25
4.       मॉडर्न इंडस्ट्रीयल एस्टेट (MIE) पार्ट 2 में इंफ्रास्ट्रक्चर अपग्रेडेशन,              36.80
बहादुरगढ़
5.       (MIE) पार्ट 2 में CETP 10 MLD का निर्माण, बहादुरगढ़                    25.10
6.       रोड, सीवरेज और ड्रेनेज का अपग्रेडेशन, NIT फरीदाबाद                      32.20
7.       रोड, सीवरेज, ड्रेनेज और स्ट्रीट लाइट अपग्रेडेशन                           31.74
सेक्टर 24, फरीदाबाद 
8.       रोड, सीवरेज, ड्रेनेज और स्ट्रीट लाइट अपग्रेडेशन                           41.35
सेक्टर 25, फरीदाबाद  
9.       रोड, सीवरेज, ड्रेनेज और स्ट्रीट लाइट अपग्रेडेशन                       25.47
सेक्टर 32, DLF, फरीदाबाद   
                                                          कुल –       248.48
हरियाणा के उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने बताया कि पानीपत, सोनीपत, बहादुरगढ़ और फरीदाबाद प्रदेश में उद्योग के हब के रूप में जाने जाते हैं। इसी कड़ी में शुरुआत इन शहरों से की गई है। इन शहरों में मिलने वाली सुविधाएं उद्योगपतियों के लिए राहत का काम करेंगी। और यहां मिलने वाली सुविधाओं को देखते हुए दूसरे राज्यों में रहने वाले हरियाणा के उद्योगपति भी यहां आकर उद्योग का विस्तार करने के लिए आकर्षित होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

60076

+

Visitors