वोट देन वालेओ-लाख-लख बधाई होवे, मुंह मीठे लड्डओं से

Loading

 पठानकोट ; 11 मार्च ; कंवल रंधावा/अल्फ़ा न्यूज इंडिया :—- विस इलेक्शन 2017 में पठानकोट के तीन हलकों में 2 में पंजा चला जबकि 1 हलके में कमल खिल गया। पठानकोट और विधानसभा हलके में कांग्रेस की शानदार जीत हुई जबकि सुजानपुर में कांग्रेस से बागी होकर चुनाव लड़े नरेश पुरी ने मुकाबला त्रिकोणीय कर दिया जिससे पूर्व डिप्टी स्पीकर और निवर्तमान विधायक दिनेश बब्बू ने सुजानपुर में तीसरी बार कमल खिला दिया। पठानकोट से कांग्रेस प्रत्याशी अमित विज 11027, सुजानपुर से भाजपा के दिनेश बब्बू 18544 और भोआ में कांग्रेस के जोगिन्द्र पाल 27467 वोटों से विजयी रहे। पठानकोट से कांग्रेस कैंडीडेट अमित विज और भोआ से कांग्रेस कैंडीडेट जोगिन्द्रपाल ने पहले ही राऊंड से बढ़त बनाई जोकि आखिरी राऊंड तक टूट नहीं पाई। अमित 12 राऊंड जबकि जोगिन्द्रपाल 15 राऊंड के बाद विजेता घोषित किए गए। वहीं सुजानपुर के भाजपा प्रत्याशी दिनेश सिंह बब्बू 14 राऊंड के बाद विजेता करार दिए गए।
एसडी कालेज के प्रांगण में जिले के तीनो हल्को की सुबह 8 बजे से काउंटिंग शुरू हुई। सुबह साढ़े 8 बजे से केंडीडेटस के समर्थक जुटने लगे। जहां काउंटिग हाल के अंदर केंडीडेटो की दिलो में जीत-हार को लेकर धुक-धुकी हो रही थी। वहीं समर्थक रिजल्ट के रूझान को लेकर बेसब्री से इंतजार करते रहे। सड़को पर बाहर खड़े समर्थक मोबाइल फोन कर एक दूसरे से राउंड वाइज जानकारी लेते रहे। एक के बाद चले राउंडो वाइज में 6वें राउंड पर जीत-हार का तय को देख जहां समर्थक अपने केंडीडेंट के जीतने की खुशी को लेकर बाहर ढोल की थाप पर खुशिया मनाते रहे। वहीं हार रहे केंडीडेटस के समर्थक निराश होकर धीरे-धीरे वापिस लौट गए। दोपहर 12 बजे पहले पठानकोट से अमित विज की जीत की खबर आई तो समर्थको ने ढोल की थाप व कांग्रेस जिंदाबाद के नारे लगाकर जशन मनाया। फिर समर्थको ने अमित विज को कंधो पर बिठाकर खूब भांगड़ा डाला। वहीं उनके पिता अनित विज को भी समर्थको ने कंधो पर बिठाकर फूलो के हार पहनाए। अमित विज ने हाथ जोड़ व बडो के पैर छू कर धन्यावाद किया।  फिर दोपहर 12 बजकर 40 मिनट पर भोआ से कांग्रेस के जोगिंद्रपाल का ऐलान हुआ तो उनके समर्थको में जीत का जशन चला। भोआ से पठानकोट पहुंचे समर्थको ने कांग्रेस के विधायक बने जोगिंद्रपाल को हार पहनाकर कंधो पर बिठाकर ओपन जीप में जलूस की शकल में भोआ की ओर से रवाना हो गए। अंतिम में सुजानपुर हल्के से बीजेपी के दिनेश सिंह बब्बू की जीत की खबर सुनते ही समर्थको ने एसडी कालेज के बाहर  जशन मनाया। वहीं समर्थको ने मोबाइल फोन पर अपने-अपने रिश्तेदारो, दोस्तो व एरिया में इसकी जानकारी दी। जीतने वाले केंडीडेंटो ने एसडी कालेज के बाहर पठानकोट-जम्मू हाइवे पर जीपो, मोटरसाइकिलो पर सवार होकर वोटरो का धन्यावाद करते हुए अपने-अपने एरिया में जलूस निकालते हुए रवाना हो गए। जीत को लेकर जशन देर शाम तक चलता रहा। जीतने वाले समर्थक के मुंह पर था कि वोट देन वालेओ-लाख-लख बधाई होवे, बोलकर जशन मनाया। वहीं समर्थको ने अपने-अपने केंडीडेटो के साथ सेल्फी लेते भी नजर आए।  
     अल्फ़ा न्यूज इंडिया डेस्क ;——-पंजाब विधानसभा की 117 सीटों में से कांग्रेस आई को 77 आम आदमी पार्टी को 22 और तीसरी मर्तबा सरकार  बनाने का ख्बाब पाले हुए बापबेटे दी जोड़ी बादल शिअद और भाजपा को सिर्फ 18 सीटें हासिल हुईं ! कांग्रेस पार्टी को 38.5 फीसदी वोटें मिलीं ! शिरोमणि अकाली दल को 15 और भारतीय जनता पार्टी को तीन सीटें नसीब हुईं ! आप को 20 और लोकभलाई पार्टी को 2 सीटें मिली दोनों ने मिलकर शिअद भाजपा के गठजोड़ की नकल की थी ! कैप्टन दस वर्ष बाद फिर बड़े बहुमत के साथ सत्ता पर काबिज होंगे ! बीबी राजिंदर कौर भट्ठल भगवंत सिंह मान चुनाव हार गए हैं ! भगवंत मान [आप] को शिअद भाजपा के सुखवीर सिंह बादल [उपमुख्यमंत्री] ने जलालाबाद से हराया ! और लम्बी से कैप्टन  अमरेंद्र सिह को शिअद के उम्र का शतक लगाने के करीब पहुंचे मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने हराया ! नवजोत सिंह सिद्धू ने अमृतसर पूर्वी से जीत हासिल तो सुनील जाखड़ हार गए हैं !शिअद के तोता सिंह भी हार गए हैं ! खरड़ से आप के कंवर सिंह सन्धु और डेराबस्सी से शिअद के एनके शर्मा ने कांग्रेस आई के दीप इंद्र सिंह ढिल्लों को हराया !  

                    अश्वनी बगानिया जनरल सेक्रेटरी पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी और वाइस प्रेजीडेंट सेंट्रल बाल्मीकि सभा इंटरनैशनल यूके और राष्टरीय चेयरमेन लवकुश सेवादल सहित नैशनल वाइस प्रेजिडेंट भारतीय मानव कल्याण महासंघ ने कांग्रेस आई की सूबे में जबरदस्त जीत के लिए सुबावासियों को होली पर्व के साथ साथ कैप्टन अमरेंद्र सिंह के जन्मदिन की भी बधाइयां दी और सबका शुक्रिया अदा किया ! उनहोंने स्पष्ट किया कि सब प्रदेश का सर्वजन विकास सब पार्टीज को साथ लेकर किया जायेगा ! ये जीत बड़े हुक्मरानों की दूरदर्शिता का नतीजा है ! प्रदेश की जनता कुशासन से ऊब चुकी थी ! और प्रदेश ने सिह सूरमाओं के सूबे की कमान बाहर वालों को देने से गुरेज बरती और जुम्लेबाजियों के भी बहकावे में नहीं आये ! 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

60987

+

Visitors