शनिदेव को मनाने के कुछ उपाय

Loading

जानिए शनिदेव को मनाने के कुछ उपाय-      

प्रिय पाठकों/मित्रों, वैदिक ज्योतिष में शनि देव को न्यायाधीश बताया गया है. | किसी भी व्यक्ति के सभी कर्मों के अच्छे-बुरे फल शनि महाराज ही प्रदान करते हैं. साढ़ेसाती और ढय्या के समय में शनि व्यक्ति को उसके कर्मों का फल प्रदान करते हैं |
1- ज्योतिषाचार्य पंडित दयानंद शास्त्री बताते हैं की  शनि की साढ़ेसाती और ढय्या या अन्य कोई शनि दोष हो तो हर शनिवार को किसी भी पीपल के वृक्ष को दोनों से स्पर्श करें. स्पर्श करने के साथ ही पीपल की सात परिक्रमाएं करें | परिक्रमा करते समय शनिदेव का ध्यान करना चाहिए. किसी शनि मंत्र (ऊँ शंशनैश्चराय नम:) का जप करें या ऊँ नम: शिवाय का जप करें. इस प्रकार हर शनि को करें |
2-ज्योतिषाचार्य पंडित दयानंद शास्त्री बताते हैं की  शनिदेव  को मनाने का एक और सबसे अच्छा उपाय है कि हर मंगलवार और शनिवार को हनुमान चालीसा का पाठ करें. हनुमानजी के दर्शन और उनकी भक्ति करने से शनि के सभी दोष समाप्त हो जाते हैं. शास्त्रों के अनुसार शनि किसी भी परिस्थिति में हनुमानजी के भक्तों को परेशान नहीं करते हैं |
3-  ज्योतिषाचार्य पंडित दयानंद शास्त्री बताते हैं की इन उपायों के साथ ही हर सप्ताह में केवल एक ही दिन शनिवार को शनिदेव के निमित्त तेल का दान करना चाहिए. तेल का दान करने से पहले व्यक्ति को एक कटोरी में तेल लेकर उसमें अपना चेहरा देखना चाहिए| इसके बाद तेल का दान कर देना चाहिए. इस उपाय से भी शनि के दोष समाप्त हो जाते हैं |
|| शुभम बावतु|| कल्याण हो||
=============================================================================

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

60068

+

Visitors