पर्यटन नगरी में बदहाल वाटिकाएं, बेकार पडे फव्वारे

Loading


पर्यटकों व आमजन में निराशा,नगर परिषद नहीं दे रही ध्यान 

जैसलमेर ; 2 मई ; चंदरभान सोलंकी /अल्फ़ा न्यूज इंडिया ;—-जैसलमेर के सौंदर्यकरण को बढ़ावा देने वाली वाटिकाएं सौंदर्य बढ़ाने की बजाय सौंदर्य को खराब कर रही है। शहर पर्यटकों व अन्य यात्रियों के लिए राहत व सुकून देने वाली वाटिकाएं खुद ही सुकून की तलाश में है। गौरतलब है कि पर्यटन की दृष्टि व स्वर्णनगरी में सौंदर्यता को बढ़ाने के लिए शहर की विभिन्न जगहों पर वाटिकाएं लगाई गई। लेकिन नगर परिषद की उदासीनता के चलते वाटिकाएं फलफूल नहीं पाई और असामाजिक तत्वों व बबूल की झाड़ियों की भेंट चढ़ गई। वहीं शहरवासियों को सकून देने के लिये नगर परिषद द्वारा शहर के विभिन्न चौराहों पर लाखों रूपये खर्च कर फव्वारे लगवाये गये थे ताकि शहर की सुन्दरता बढाने के साथ साथ गर्मी के मौसम में शहर वासियों को सकून दिया जा सके लेकिन लगाये जाने के बाद से लगातार खराब पडे इन फव्वारों की तरफ नगर परिषद बिल्कुल ध्यान नहीं दे रही है जिससे लगभग सभी फव्वारें क्षतिग्रसत हो चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

61024

+

Visitors