रचनात्मक, साकरात्मक और आशावादी पत्रकारिता की सरजमी तैयार करें ;प्रो. बृजकिशोर कुठियाला

Loading

यमुनानगर ; 3 मार्च ; राकेश शर्मा ;—-माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय भोपाल, मध्यप्रदेश के कुलपति और सुप्रसिद्ध मीडिया चिंतक प्रो. बृजकिशोर कुठियाला अपने दो दिवसीय यमुनानगर प्रवास के दौरान शहर के विभिन्न कालेजों में पढऩे वाले मीडिया विद्यार्थियों से मुलाकात की। मौके पर गुरूनानक खालसा कालेज, डी.ए.वी. कालेज फॉर गल्र्ज और जी.एन.जी. कालेज के मीडिया विद्यार्थी व मीडिया शिक्षक भी मौजूद थे। मीडिया विद्यार्थियों और शिक्षको को सम्बोधित करते हुए प्रो. कुठियाला ने कहा कि मीडिया किसी भी देश व समाज का आईना होता है। मीडिया जो भी लिखता और दिखाता है उसका समाज पर व्यापक प्रभाव पड़ता है। उन्होंने मीडिया विद्यार्थियों और शिक्षकों से अनुरोध किया कि वे रचनात्मक, साकरात्मक और आशावादी पत्रकारिता की सरजमी तैयार करें ताकि नवोदित मीडिया कर्मी मीडिया के क्षेत्र में जाकर समाज व राष्ट्र निर्माण के कार्याे में योगदान दे।  

   उन्होंने लोकतंत्र और मीडिया के बीच के सम्बंधों को  समझाते हुए बताया कि दोनों ही एक दूसरें पर निर्भर है और एक की विफलता दूसरें की विफलता साबित हो सकती है। इसलिए हम जब भी कलम और कैमरे का उपयोग करे तो बहुत ही सावधानी के साथ करे। प्रो. कुठियाला ने राष्ट्रीय संस्कृति, परम्पराओं, मान्यताओं तथा देश की विरासत पर आलेख, शोध परख वृतचित्र बनाने, सोशल मीडिया का इसी दृष्टि से अधिकाधिक  प्रयोग करने व सावधानी बरतने का आह्वान किया। 

मौके पर गुरू नानक खालसा कालेज के जन संचार एवं मीडिया प्रौद्योगिकी विभागाध्यक्ष डॉ. उदय भान सिंह, डी.ए.वी. कालेज फॉर गल्र्ज के मीडिया विभाग अध्यक्ष परमेश त्यागी, रेनू बाला, गुरदेव सिंह, जी.एन.जी. कालेज से रविन्द्रकौर, राखी और विनी गम्भीर सहित भारी संख्या में मीडिया विद्यार्थी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

61009

+

Visitors