एक मात्र क्रशर इण्डस्ट्री भी बन्द की कग्गार पर * इंडस्ट्री से जुड़े हजारों परिवार भुखमरी के साये में

Loading

 पठानकोट :  22 जून ;कँवल रंधावा/अल्फ़ा न्यूज इंडिया ;——- पठानकोट में मात्र एक क्रशर इण्डस्ट्री ही थी जिससे हज़ारों परिवारों का इस क्रशर इण्डस्ट्री में काम कर पेट पलता था पर अब यह क्रशर इण्डस्ट्री भी अपनी कांग्रेस सरकार की माइनिंग नीति अभी तक किसी अंजाम तक न पहुंचने कारण अंतिम सांसें गिनने लगी है । जिस कारण क्रशर इंडस्ट्री से जुड़े  यह परिवार अपनी दो वक्त की रोटी के लिए दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर हो रहे है । यहां यह बात उल्लेखनीय है कि जब अकाली भाजपा की सरकार थी तब कांग्रेस पार्टी की और से हर रोज माइनिंग को लेकर मुद्दा बनाया जाता था कि अकाली सरकार की और से क्रशर इण्डस्ट्री पर गुण्डा टैक्स लगा लगा रखा है जिससे अकाली अपनी जेबें तो भर रहे हैं मगर क्रशर इण्डस्ट्री को मरण अवस्था की और धकेल दिया है । मगर अब पंजाब की सत्ता पर कांग्रेस होने के करीब तीन महीने बीत जाने के बावजूद अभी तक माइनिंग पर ठोस नीति को परवानगी न  मिलने कारण आज क्रशर इंडस्ट्री करीब बन्द होने की कग्गार ओर आ खड़ी हुई है। जिससे इस क्रशर इण्डस्ट्री पर काम करने वाले हजारों परिवार अपनी रोजी रोटी के लिए मोहताज़ हो रहे है। जबकि चुनावों से पहले कांग्रेस पार्टी न लोगों से यह वादा किया था कि अगर पंजाब में इस बार कांग्रेस सरकार आई तो सब से पहले इस क्रशर इण्डस्ट्री को गुण्डा टैक्स से मुक्त करा कर लोगों को सस्ता रेता बजरी दिला कर राहत दी जाएगी।  

जिससे  क्रशर इण्डस्ट्री वाले भी बिना खौफ सही ढंग से काम कर सकेंगे पर अब नई सरकार आने पर पहले से भी इस क्रशर इण्डस्ट्री का बुरा हाल होता दिखाई दे रहा है।पंजाब के अंतिम जिला पठानकोट में एक मात्र क्रशर इण्डस्ट्री ही है जिससे हज़ारों लोगों की रोजी रोटी चलती थी। हजारों ही परिवार इस इंडस्ट्री पर ही निर्भर हैं, जबकि कांग्रेस सरकार आने के बाद तो यह क्रशर इण्डस्ट्री मरण अवस्था में पहुंच गई दिखाई देती है । यहां बता दे की कई लोगों ने करोड़ों रुपए लगा पठानकोट में क्रशर इण्डस्ट्री लगाई थी जो कि सरकार की ग़लत नीतियों के चलते बंद हों चुकी है और वह लोग अब कर्जे के तले दब कर रह गए है और इनकी और देखने वाला भी कोई नहीं है। इतना ही नहीं इस क्रशर इण्डस्ट्री पर काम कर अपनी रोजी रोटी चलाने वाले हजारों परिवार भुखे मरने को विवश हो गए है अब तो इन लोगों का नई सरकार से भी मोह भंग होने लगा है इस उद्योग से जुड़े लोगों ने कहा कि इससे तो पिछली अकाली भाजपा की सरकार अच्छी थी तब कैसे ना कैसे थोड़ा बहुत काम तो चलता था हम अपने परिवार को दो वक्त की रोटी तो दे पाते थे लोगों ने मांग की सरकार को जल्द चाहिए कि कोई नई पॉलिसी बनाए ता जो  पठानकोट में एक मात्र जो क्रशर इण्डस्ट्री है उसे बंद होने से बचाया जा सके।  

दूसरी और पठानकोट के पूर्व विधयाक व पूर्व ट्रांसपोर्ट मंत्री मास्टर मोहन लाल ने मिडिया से बात करते हुए कहा कि जब अकाली भाजपा की सरकार थी तब यही कांग्रसी पार्टी बोलती थी की अकाली भाजपा की सरकार ने गुण्डा टैक्स लगा कर पठानकोट क्रशर इण्डस्ट्री ख़त्म कर दी है पर अब क्या है अब तो कांग्रेस की अपनी सरकार है अब वह क्रशर इण्डस्ट्री को बचने के लिए क्या कर रही है । उन्होंने कहा कि पठानकोट में एक मात्र क्रशर इण्डस्ट्री ही है जिससे हज़ारों परिवारों की रोजी रोटी चलती है वह भी क्रशर इण्डस्ट्री बंद होने से ख़त्म हो रही है उन्होंने पंजाब सरकार से मांग करते हुए कहा की जल्द इस और ध्यान दे व इस  क्रशर इण्डस्ट्री वचा लोगों से किए वादे पुरे करे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

61023

+

Visitors