एकादशियों की कल्याणकारी व पापनाशक रोचक कथाएँ

Loading

एकादशियों की कल्याणकारी व पापनाशक रोचक कथाएँ  
CHANDIGARH ; 23 JUNE;' ALPHA NEWS INDIA ;-----*शौनक* आदि अट्ठासी हजार ऋषि-मुनि बड़ी श्रद्धा से इन एकादशियों की कल्याणकारी व पापनाशक रोचक कथाएँ सुनकर आनन्दमग्न हो रहे थे। अब सबने ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी की कथा सुनने की प्रार्थना की। तब *सूतजी* ने कहा- *महर्षि व्यास* से एक बार *भीमसेन* ने कहा- "हे पितामह! भ्राता *युधिष्ठिर, माता कुन्ति, द्रौपदी, अर्जुन, नकुल* और *सहदेव* आदि एकादशी के दिन व्रत करते हैं और मुझे भी एकादशी के दिन अन्न खाने को मना करते हैं। मैं उनसे कहता हूँ कि भाई, मैं भक्तिपूर्वक भगवान की पूजा कर सकता हूँ और दान दे सकता हूँ, किन्तु मैं भूखा नहीं रह सकता।"
इस पर महर्षि व्यास ने कहा- "हे भीमसेन! वे सही कहते हैं। शास्त्रों में वर्णित है कि एकादशी के दिन अन्न नहीं खाना चाहिये। यदि तुम नरक को बुरा और स्वर्ग को अच्छा समझते हो तो प्रत्येक माह की दोनों एकादशियों को अन्न नहीं खाया करो।

महर्षि व्यास की बात सुन भीमसेन ने कहा- "हे पितामह, मैं आपसे पहले ही कह चुका हूँ कि मैं एक दिन तो क्या एक समय भी भोजन किये बिना नहीं रह सकता, फिर मेरे लिये पूरे दिन का उपवास करना क्या सम्भव है? मेरे पेट में अग्नि का वास है, जो ज्यादा अन्न खाने पर ही शान्त होती है। यदि मैं प्रयत्न करूँ तो वर्ष में एक एकादशी का व्रत अवश्य कर सकता हूँ, अतः आप मुझे कोई एक ऐसा व्रत बतलाइये, जिसके करने से मुझे स्वर्ग की प्राप्ति हो सके।"

भीमसेन की बात सुन व्यासजी ने कहा- "हे पुत्र! बड़े-बड़े ऋषि और महर्षियों ने बहुत-से शास्त्र आदि बनाये हैं। यदि कलियुग में मनुष्य उनका आचरण करे तो अवश्य ही मुक्ति को प्राप्त होता है। उनमें धन बहुत कम खर्च होता है। उनमें से जो पुराणों का सार है, वह यह है कि मनुष्य को दोनों पक्षों की एकादशियों का व्रत करना चाहिये। इससे उन्हें स्वर्ग की प्राप्ति होती है।"

महर्षि व्यास ने कहा- "हे वायु पुत्र! *वृषभ संक्रान्ति* और *मिथुन संक्रान्ति* के बीच में ज्येष्ठ माह की शुक्ल पक्ष की एकादशी आती है, उसका निर्जल व्रत करना चाहिये। इस एकादशी के व्रत में स्नान और आचमन करते समय यदि मुख में जल चला जाये तो इसका कोई दोष नहीं है, किन्तु आचमन में ६ माशे जल से अधिक जल नहीं लेना चाहिये। इस आचमन से शरीर की शुद्धि हो जाती है। आचमन में ६ माशे से अधिक जल मद्यपान के समान है। इस दिन भोजन नहीं करना चाहिये। भोजन करने से व्रत का नाश हो जाता है। सूर्योदय से सूर्यास्त तक यदि मनुष्य जलपान न करे तो उससे बारह एकादशियों के फल की प्राप्ति होती है। द्वादशी के दिन सूर्योदय से पहले ही उठना चाहिये। इसके पश्चात भूखे ब्राह्मण को भोजन कराना चाहिये। तत्पश्चात स्वयं भोजन करना चाहिये।

हे भीमसेन! स्वयं भगवान ने मुझसे कहा था कि इस एकादशी का पुण्य सभी तीर्थों और दान के बराबर है। एक दिन निर्जला रहने से मनुष्य पापों से मुक्त हो जाता है। जो मनुष्य निर्जला एकादशी का व्रत करते हैं, उन्हें मृत्यु के समय भयानक यमदूत नहीं दिखाई देते, बल्कि भगवान श्रीहरि के दूत स्वर्ग से आकर उन्हें पुष्पक विमान पर बैठाकर स्वर्ग को ले जाते हैं। संसार में सबसे उत्तम *निर्जला एकादशी* का व्रत है। अतः यत्नपूर्वक इस एकादशी का निर्जल व्रत करना चाहिये। इस दिन *'ॐ नमो भगवते वासुदेवाय'*, इस मन्त्र का उच्चारण करना चाहिये। इस दिन गौदान करना चाहिये। इस एकादशी को *भीमसेनी* या *पाण्डव एकादशी* भी कहते हैं। निर्जल व्रत करने से पहले भगवान का पूजन करना चाहिये और उनसे प्रार्थना करनी चाहिये कि हे प्रभु! आज मैं निर्जल व्रत करता हूँ, इसके दूसरे दिन भोजन करूँगा। मैं इस व्रत को श्रद्धापूर्वक करूँगा। मेरे सब पाप नष्ट हो जाएं। इस दिन जल से भरा हुआ घड़ा वस्त्र आदि से ढककर स्वर्ण सहित किसी सुपात्र को दान करना चाहिये। इस व्रत के अन्तराल में जो मनुष्य स्नान, तप आदि करते हैं, उन्हें करोड़ पल स्वर्णदान का फल प्राप्त होता है। जो मनुष्य इस दिन यज्ञ, होम आदि करते हैं, उसके फल का तो वर्णन भी नहीं किया जा सकता। इस निर्जला एकादशी के व्रत के पुण्य से मनुष्य विष्णुलोक को जाता है। जो मनुष्य इस दिन अन्न खाते हैं, उनको चाण्डाल समझना चाहिये। वे अन्त में नरक में जाते हैं। ब्रह्म हत्यारे, मद्यमान करने वाले, चोरी करने वाले, गुरु से ईर्ष्या करने वाले, झूठ बोलने वाले भी इस व्रत को करने से स्वर्ग के भागी बन जाते हैं।

हे अर्जुन! जो पुरुष या स्त्री इस व्रत को श्रद्धापूर्वक करते हैं, उनके निम्नलिखित कर्म हैं, उन्हें सर्वप्रथम विष्णु भगवान का पूजन करना चाहिये। तदुपरान्त गौदान करना चाहिये। इस दिन ब्राह्मणों को दक्षिणा देनी चाहिये। निर्जला के दिन अन्न, वस्त्र, छत्र आदि का दान करना चाहिये। जो मनुष्य इस कथा का प्रेमपूर्वक श्रवण करते हैं तथा पठन करते हैं वे भी स्वर्ग के अधिकारी हो जाते हैं।"

*कथा-सार*
अपनी कमजोरियों को अपने गुरुजनों व परिवार के बड़ों से कदापि नहीं छुपाना चाहिये। उन पर विश्वास रखते हुए भक्त को चाहिये कि वह अपना कष्ट उन्हें बताये, ताकि वे उसका कोई उचित उपाय कर सकें। उपाय पर श्रद्धा और विश्वासपूर्वक अमल करना चाहिये।
6/26/18, 9:39 PM - Rk SHARMA vikrama PGDPR: *सुपरस्टार अक्षय कुमार के सुझाव पर मोदी सरकारका एक और अच्छा फैसला :* ........
एक रूपये मात्र रोज का भुगतान वो भी भारतीय सेना के लिए। मोदी सरकार ने कल कैबिनेट की मीटिंग में भारतीय सेना की आधुनिकता और सेना के जवानो जो कि युद्ध क्षेत्र में घायल होते है या शहीद होते है उनके लिए एक बैंक अकाउंट खोल ही दिया।जिसमे हर भारतीय अपनी स्वेक्षा से कितना भी दान दे सकता है। जो कि 1 रुपए से शुरू होकर असीमित  है।

इस पैसे का प्रयोग सेना तथा अर्धसैनिक बलो के लिए हथियार खरीदना भी होगा । मन की बात तथा फेसबुक, ट्वीटर,व्हाट्सएप्प पर लोगो के सुझाव पर आज के जलते हालात पर मोदी सरकार ने अंततः फैसला लेते हुए नई दिल्ली, *सिंडिकेट बैंक में आर्मी वेलफेयर फण्ड बैटल कैजुअल्टी फण्ड अकाउंट खोला है।* 

यह *Film Star Akshay Kumar* का मास्टर स्ट्रोक है। जहाँ से भारत को सुपर पॉवर बनने से कोई नहीं रोक सकता। भारत की 130 करोड़ जनसंख्या में से अगर 70% भी केवल एक रुपया इस फण्ड में रोज़ डालते है तो वो 1 रुपये एक दिन में 100 करोड़ होगा। 30 दिन में 3000 करोड़ और 36000 करोड़ एक साल में। 36,000 करोड़ तो पाकिस्तान का सालाना रक्षा बजट भी नहीं है । हमलोग प्रतिदिन 100 या 1000 रुपया रोज़ फालतू के काम में खर्च कर देते है लेकिन यदि हमलोग एक रूपये सेना के लिए दिया तो सचमुच भारत एक सुपर पॉवर जरूर बनेगा।

आपका ये रुपया सीधे रक्षा मंत्रालय के सेना सहायता एवं वॉर कैजुअल्टी फण्ड में जमा होगा। जो सैन्य सामग्री और सेना के जवानो के काम आएगा

*इसलिए मोदीजी के इस अभियान से जुड़कर सीधे तौर पर सेना की मदद करें।*
 पाकिस्तान हाय हाय कर, सड़क जाम करने और बयानबाजी करने से कुछ नहीं होगा। मोदी और देश की जनता की सोच को अमलीजामा पहनाये और अपने देश की सेना को मजबूत बनाये। जिससे पकिस्तान और चीन जैसे देशो को उसकी बिना किसी देश की सहायता से उनकी औकात बता सके। बैंक डिटेल्स नीचे दिए गए है।

*Bank Details:*

*SYNDICATE BANK*
*A/C NAME: ARMY WELFARE FUND BATTLE CASUALTIES,*
*A/C NO:* *90552010165915*
*IFSC CODE:* *SYNB0009055*
*SOUTH EXTENSION BRANCH,NEW DELHI.*

👉 *इस सन्देश को सभी जगह फैला दे ताकि सभी 130 करोड़ भारतीयो को  अपने कर्तव्यों का पता चल जाये। सभी ग्रुप और पर्सनल no. पर भी भेजें।*          
🙏 *जय हिन्द। वन्दे मातरम् ।*🙏
6/26/18, 9:39 PM - Rk SHARMA vikrama PGDPR: <Media omitted>
6/27/18, 8:04 PM - Rk SHARMA vikrama PGDPR: http://www.newsmakeinindia.com/foreign-designers-epch.html
6/27/18, 8:04 PM - Rk SHARMA vikrama PGDPR: देखिए वीडियो : केला खाने अस्पताल पहुंच गया था हाथी, डर गए थे मरीज और स्टाफ, घटना हुई सीसीटीवी कैमरे में कैद.... https://lalluram.com/?p=90046
6/27/18, 8:04 PM - Rk SHARMA vikrama PGDPR: *अनुपम खेर ने शेयर किया अटलजी का लुक, 140 एक्टर्स नजर आएंगे द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर में*



🔮🔮🔮🔮🔮🔮🔮🔮🔮🔮🔮



– ‘द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ 21 दिसंबर को रिलीज होगी।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की बायोपिक द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर में अटल बिहारी वाजपेयी का लुक रिवील हो गया है। अनुपम खेर ट्विटर पर रामअवतार भारद्वाज के साथ एक फोटो शेयर किया है। जिसमें दोनों हाथ मिलाते हुए दिखाई दे रहे हैं। यह फिल्म मनमोहन सिंह के मीडिया एडवाइजर संजय बारू की किताब द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर : द मेकिंग एंड अनमेकिंग ऑफ मनमोहन सिंह पर आधारित है।


*140 से ज्यादा कलाकार :*

 मनमोहन सिंह की बायोपिक में विनोद मेहता, सीताराम येचुरी, ए. राजा, एपीजे अब्दुल कलाम, लालू प्रसाद, मायावती, सुषमा स्वराज, अमर सिंह, कपिल सिब्बल, ज्योति बसु, प्रणब मुखर्जी, नटवर सिंह, पीवी नरसिम्हा राव, अजित पिल्लई, शिवराज पाटिल, अर्जुन सिंह और उमा भारती जैसे नेताओं के किरदार भी शामिल हैं।


– इन सभी को मिलाकर फिल्म में कुल 140 एक्टर्स नजर आएंगे।


*सुजैन बर्नेट बनी सोनिया गांधी:* जर्मन एक्ट्रेस सुजैन बर्नर्ट 2007 में आई फिल्म ‘हनीमून ट्रैवल्स प्राइवेट लिमिटेड’ में नजर आई थीं। टीवी शो एक हजारों में मेरी बहना है, ये रिश्ता क्या कहलाता है और सीरियल ‘चक्रवर्ती अशोक सम्राट’ में विदेशी खलनायिका (वैम्प) का किरदार निभा चुकी हैं। सुजैन ने इंडियन एक्टर अखिल मिश्रा से 2009 में शादी की थी।


– सुजैन को 8 भाषाओं जर्मन, फ्रेंच, इटैलियन, स्पैनिश, इंग्लिश, हिंदी, मराठी और बंगाली का अच्छा नॉलेज है।


*अहाना कुम्रा ने निभाया प्रियंका का रोल* : अहाना ने ज्यादा शॉर्ट फिल्मों और वेब सीरीज में काम किया है। 2017 में आई फिल्म लिपस्टिक अंडर माय बुर्का में भी अहाना ने लीला का अहम किरदार निभाया था। 2013 में अमिताभ बच्चन के साथ टीवी सीरीज युद्ध में भी काम कर चुकी हैं, जिसमें वे अमिताभ की बेटी बनी थीं।




*अर्जुन माथुर बन रहे हैं राहुल गांधी* : अर्जुन माथुर ने अपने करियर की शुरुआत असिस्टेंट के रूप में की। बतौर असिस्टेंट वे क्यूं हो गया न, बंटी और बबली, रंग दे बसंती और मंगल पांडे जैसी फिल्मों में काम कर चुके थे। वहीं क्यूं हो गया न में सुमी का रोल भी किया था।





*गुरशरण कौर बनी हमलोग की मझली* : दिव्या सेठ शाह फिल्म में मनमोहन सिंह की पत्नी गुरशरण कौर का किरदार निभाएंगी। दूरदर्शन के फेमस सीरियल ‘हमलोग’ की ‘मझली’ के रूप में मिली थी। दिव्या जब वी मेट, इंग्लिश-विंग्लिश दिल धड़कने दो और पटेल की पंजाबी शादी जैसी फिल्मों में भी काम कर चुकी हैं।



*संजय बारू के रोल में अक्षय खन्ना* : 2018 में अक्षय द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर के अलाव सेक्शन 375: मर्जी या जबरदस्ती की शूटिंग कर रहे हैं। अक्षय जयललिता को डेट करने का बयान देकर विवादों में भी घिर चुके थे। अक्षय संजय के रोल में नजर आएंगे।



*एक्स्ट्रा शॉट्स*

– फिल्म का निर्देशन विजय रत्नाकर गुट्‌टे कर रहे हैं।
– अनुपम खेर आैर बाकी कलाकारों के ड्रेस पर फैशन डिजाइनर मनीष मल्होत्रा और नदीम बख्शी ने काम किया है।
– फिल्म की 45 प्रतिशत शूटिंग लंदन में हुई है। जबकि बाकी शूटिंग दिल्ली, पंजाब और मुंबई में चल रही है।

*राम अवतार भारद्वाज पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी की भूमिका में नजर आएंगे।*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

60982

+

Visitors