आधुनिक भारत निर्माण में कम्प्यूटर का है अहम रोल ; भावना

Loading

आधुनिक भारत निर्माण में कम्प्यूटर का है अहम रोल ; भावना 


चंडीगढ़ ; 8 अक्टूबर ; आरके शर्मा विक्रमा /एके धीमान ;—– भारत दुनिया भर में हर क्षेत्र में अग्रणी स्थान बनाने की और बड़ी तेजी से बढ़ रहा है ! इस सब के लिए  देश में कम्प्यूटर क्रांति की महती भूमिका की होंद से कोई इंकार नहीं कर सकता है ! युवा समाज अपने प्रौढ़ वर्ग को साथ लेकर अब कम्प्यूटर तकनीक का समग्र उपयोग  कर रहा है ! ये विचार आज सेक्टर 11 स्थित गवर्नमंट इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टीच्यूट फॉर वीमेन में आई सी टी स्किल्स की ट्रेनिंग में कम्प्युटर की बेसिक नॉलेज देते हुए अनुदेशिका भावना ने ट्रेनिंग लेने आये विभिन्न सरकारी दफ्तरों के कर्मचारियों और अफसरों से सांझे किये ! इस मौके पर उन के साथ ऋतू भाटिया भी उपस्थित रहीं ! गौर तलब है कि डायरेक्टरेट ऑफ़  टेक्निकल एजुकेशन ने आजकल शीर्ष अधिकारी से लेकर चौकीदार तक को आईसीटी स्किल्स के तहत पांच दिवसीय ट्रेनिंग का आयोजन अभियान छेड़ रखा है ! अनेकों विभागों के अधिकारी और कर्मचारी उक्त स्किल्स ट्रेनिंग का भरपुर लाभ  उठा चुके हैं ! उक्त इंस्टीच्यूट में इस सप्ताह की ट्रेनिंग में चंडीगढ़ प्रशासन के प्रिंटिंग एंड स्टेशनरी डिपार्टमेंट और डिपार्टमेंट ऑफ़ पर्सोनल  एंड ट्रेनिंग सहित डायरेक्टरेट ऑफ़ हायर एजुकेशन डिपॉर्टमेंट भाग ले रहे हैं !  
                                             चंडीगढ़ प्रशासन के प्रिंटिंग एंड स्टेशनरी डिपार्टमेंट से रूप सिंह ठाकुर कम्पोजिटर,अशोक कुमार व् राज कुमार कम्प्यूटर, निशा वर्मा व् मनदीप सिंह सहित उत्तम चंद क्लर्क, विभा ककड़ व् जसबीर सिंह सीनियर असिस्टेंट, सुनील कुमार अँजोरिया सेक्शन होल्डर,तरुण नरूला रीडर, और डिपार्टमेंट ऑफ़ पर्सोनल  एंड ट्रेनिंग से रविंदर कुमार व् गुरविंदर कौर सीनियर असिस्टेंट, रीतारानी व् एकता भट्टी जूनियर असिस्टेंट,खुशबिनद्र महरा एसएस स्टेनो, नरिंदरजीत सिंह पर्सल असिस्टेंट व् ज्योति गुलाटी क्लर्क  सहित डायरेक्टरेट ऑफ़ हायर एजुकेशन डिपॉर्टमेंट मानव कुमार, मोहन लाल व् नीतामेहता सीनियर असिस्टेंट   व्  मीणा कुमारी सीनियर स्केल स्टेनोग्राफर इस हफ्ते की आईसीटी स्किल्स की ट्रेनिंग में भाग ले रहे हैं ! इस आईसीटी स्किल्स ट्रेनिंग के लिए प्रशासन के संबंधित विभाग से नोडल अधिकारी भी नियुक्त किया गया है ! आज सोमवार से रोजाना चार घंटे के लिए शुरू हुई आईसीटी स्किल्स ट्रेनिंग का शुक्रवार को समापन होगा ! हर ट्रेनिंग लेने वाले के लिए भले ही नाममात्र बपर जलपान का व्यवस्था काबिले-तारीफ है ! 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

61506

+

Visitors