उत्तर प्रदेशराजनीति

हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल बनने के बाद पहली बार आये वाराणसी*

 

⚡वाराणसी : मधुर शर्मा :—— यूपी के देवरिया सीट से सांसद रहे भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के वरिष्ठ नेता कलराज मिश्र को हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल बनाए जाने के बाद पहली शुक्रवार वाराणसी पहुंचे। श्री मिश्रा शुक्रवार शाम लगभग 5 बजे पुलिस लाइन पहुंचे। स्वागत के लिए पहले से भाजपा नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे। उनकों रिसीव करनें के लिए विशेष रूप से प्रदेश कार्यसमिति सदस्य व पूर्व जिलाध्यक्ष राकेश सिंह अलगू को बुलाया गया था। आपको बता दें कि वे देवरिया से सांसद रहे हैं। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने चुनाव लड़ने से इन्कार कर दिया था।

⚡केन्द्र सरकार में मंत्री रहते उन्होंने देवरिया में कई विकास कार्य किए। पूर्व केन्द्रीय मंत्री मिश्र का जन्म एक जुलाई 1941 को उत्तर प्रदेश में गाजीपुर जिले के सैदपुर के गांव मलिकपुर में हुआ। उनके पूर्वज उत्तर प्रदेश में देवरिया जिले में सलेमपुर तहसील क्षेत्र का गांव पयासी के मूल निवासी हैं। उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन की शुरूआत गोरखपुर से राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रचारक के रूप में 1963 में शुरू की। देवरिया सीट से मिश्र को जनता पार्टी की सरकार में पहली बार दो मार्च 1978 को राज्यसभा का सदस्य बनाया गया। वह सबसे कम उम्र के राज्यसभा सदस्य थे।

⚡1986 से वर्ष 2002 तक तीन बार विधान परिषद के सदस्य रहे हैं। प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने पर वर्ष 1997 से 2000 के बीच कई महत्वपूर्ण विभागों के मंत्री पद पर रहे। 2002 से 2012 तक दो बार राज्यसभा के सदस्य चुने गए। वर्ष 2012 में उन्होंने लखनऊ पूर्वी विधानसभा क्षेत्र के विधानसभा का चुनाव लड़ा और जीतकर वह विधानसभा में पहुंच गए। 16वीं लोकसभा चुनाव में वह देवरिया लोकसभा क्षेत्र से वह चुनाव जीतकर सांसद बने और केन्द्र सरकार में उनको कैबिनेट मंत्री बनाया गया था। 2019 के लोकसभा चुनाव में कलराज मिश्र ने लोकसभा चुनाव न लड़ने का ऐलान कर पार्टी में एक सिपाही के तौर पर रहने की बात कही थी।

⚡देवरिया के सांसद के रूप में उन्होंने इस पीड़ा जिले को विकास के नये पायदान पर पहुंचाने का काम किया था। उन्होंने अपने कार्यकाल में यहां बेरोजगार नौजवानों को रोजगार दिलाने के लिये करीब तीन बार रोजगार मेले का आयोजन कराकर देश की मानी जानी कम्पनियों को बुलाकर यहां के हजारों नौजवानों को रोजगार दिलाने का काम कराया था। श्री मिश्र ने अपने कार्यकाल में देवरिया लोकसभा क्षेत्र में सड़कों का जाल बिछाने का कार्य किया है। सरल हृदय के स्वामी श्री मिश्र अपने कार्य तथा व्यवहार के कारण लोगों के बीच लोकप्रिय रहे हैं। उनको राज्यपाल बनाये जाने से विशेषकर वाराणसी में लोगों में खुशी की लहर देखी जा रही है। इस मौके पर आरपी अग्रवाल, चंद्रशेखर सिंह सांसद प्रतिनिधि, शिवकुमार आदि लोग मौजूद रहे।
⚡क्लाउन टाइम्स “साभार।।

Advertisement
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close