उत्तरी भारतखेल-कूदपंजाबराजनीतिराष्ट्रीयसभी समाचार

भारत की इक बेटी को मेडल और दूसरी को मौत,कानून खामोश

चंडीगढ़ /होशियारपुर ; आरके शर्मा विक्रमा /करणशर्मा /एनके धीमान ;—–भारत माता की  खिलाडी बेटियां आज हर क्षेत्र में खूब मेहनत करके देश के सर जीत का सेहरा बांध रही हैं ! दुनिया रियो ओलम्पिक गेम्स के खुमार में खूब एन्जॉय कर रही है ! भारत ने पहली मर्तबा बड़ा खिलाडी दल भेजा है ! कुछेक तो जीत के करीब जाकर मायूस लौटी हैं ! कुछेक ने जीत का खूब अच्छा स्वाद चख करके देश का भाल ऊँचा किया ! साक्षी मलिक ने कुश्ती में और पीवी सिंधु ने बैडमिंटन में देश का नाम रोशन किया !
दुखद शर्मनाक पहलु ये भी रहते हैं कि अनेकों दमदार और समर्थ खिलाडी धनाभाव में इंटरनैशनल गेम्स तक पहुँचने के पहले पड़ाव पर ही सिफारिशों के चलते धराशायी हो जाते हैं ! और अब जब बेटियां जीत गईं हैं तो हर कोई गुणगान और झूठी वाहवाही करने में लगा है ! सिंधु के नाम के बलबूते रात भर में बदले समीकरणों ने हर किसी को कमर्शियल बना दिया ! पिज्जा विदेशी कम्पनी अब इक सेकिंड भी सिंधु की लोकप्रियता को भुनाने का अवसर नहीं छोड़ते हुए बड़ी चालाकी से फ्री में पब्लिसिटी पा रही है  ! चालाक लोमड़ी की तरह कम्पनी ने सिंधु शब्द जिसके भी नाम में  होगा उनके लिए सिंधु के नाम पर निशुल्क पिज्जा खाने को देगी ! अनगिनत लोग इस ऑफर का लाभ उठा रहे हैं ! साक्षी मलिक के पिता दिल्ली ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन में बतौर कंडक्टर कार्यरत हैं ! हर ओर  से धन की बर्षा होने लगी है ! दूर दूर  से बधाई और कुबेर की कृपा हो रही है!सरकार ने साक्षी के पिता को प्रोमोट करने की घोषणा भी कर दी है ! फिर भला कहाँ बेटियां बेटों से कमतर आंकी जायेंगी !

वहीँ, देश के सबसे जांबाज  खिलाडी, सैनिकों  व् किसानों सहित मेहनतकशों की स्टेट पंजाब के जिले पटियाला  में हैंडबाल की खिलाडी पूजा चौहान  ने अपने ही कोच की तरफदारी भरी  कारगुजारी से तंग आकर मौत को गले लगाया ! पूजा हैण्ड बॉल की नैशनल खिलाडी थी !  मौत का शिकार होने से पहले पूजा ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के लिए खून से खत लिखा ! कोच की प्रताड़ना का शिकार होने वाली पूजा कोई पहली और आखिरी खिलाडी नहीं है ! कहा जा रहा आर्थिक रूप से कमजोर पूजा चौहान को होस्टल में रूम देने को लेकर कोच भेदभाव भर बर्ताव अज्ञात कारणों से कर रहा था ! सब की न सुनें और पूजा का बतौर खिलाडी रिकॉर्ड देखें तो सर गर्व महसूस करता है ! पूजा  होनहार खिलाडी थी !  ऐसे शर्मनाक बेकाबू हादसे गाहे बगाहे होने कानून की सख्त नजाकत की खोखली पोल खोलते  है ! देश में बेटियों के कमतर होते अनुपात पर  मंत्री से लेकर सन्तरी तक खूब भाषण देते हैं पर हकीकत में

 सच्चाई और हकीकत के नाम  पर हमाम में सब नन्गे हैं ! खबर लिखे जाने तक रोजाना बेतुके विषयों पर ट्वीट करने वाले ब्यूरोक्रेट्स राजनीतिज्ञ मूक दर्शक बने बैठे हैं ! पंजाब के सब से तेजतरार पुलिस ने  क्या कार्यवाही अंजाम दी, ये तो और भी सर झुकाने का सबब बनी हुई है ! जहाँ देश के हर घर में रियो की विजेता बेटियों की वापसी पर आरती  उतारने की तैयारियां जोरों पर हैं वहीँ पूजा चौहान की माता की ममतामयी गोद उजाड़ दी गई है ! पूजा के घर में  सदा के लिए अँधेरा पसर गया ! 

Advertisement
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close