उत्तरी भारतचंडीगढ़धर्मसभी समाचार

मुनि जी की बरसी मौके श्री मद्भागवत कथा में उमड़े आस्थावान,बरताया अटूट भंडारा

चंडीगढ़ ;

जूलाई  ; आरके विक्रमा शर्मा /मोनिका शर्मा /कर्ण शर्मा ;—-भागवत आचरण और सान्निध्य बड़े पुण्य कर्मों के फलों से प्राप्त होता है ! और भागवत कथा का श्रवण करना किसी सौभाग्य से कम नहीं होता ! ये भागवत धर्म वत विचार सेक़्टर 23 डी स्थित श्री मुनि महावीर हनुमान जी मंदिर के मुख्य पुजारी पंडित दीपराम जी ने व्यक्त करते हुए आगे जानकारी दी कि मुनि गौरवा नन्द जी गिरी  महाराज की 29वीं बरसी के उपलक्ष्य में हर वर्ष की भांति इस मर्तबा भी श्री मद्भागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ का महाआयोजन किया गया है ! श्री भागवतकथा का श्री समापन्न तीन जुलाई को सम्पूर्ण विधिविधान से किया जाएगा ! श्री मुनि महाराज के अनन्य सेवक पंडित रामकृष्ण शर्मा जी ने बताया कि मुनि महाराज अपने आपमें धर्म वृक्ष थे ! महाराज जी ने अनगिनत  लोगों को रोजी रोटी के साधन जुटाने के रास्ते सुझाए ! राह भटकों को 

सही राह दिखाई ! अनेकों जोड़ों को घर गृहस्थी बसाने के लिए सद्बुद्धि दी ! इसी कारण से मुनि जी के श्राद्धलुजन दूरदराज के क्षेत्रों से रोज श्री मद्भगवात कथा का श्री श्रवण करने आते हैं !  मुनि मंदिर सभा के प्रधान दलीप चंद गुप्ता ने कहा कि कथा की सम्पूर्णता से पूर्व हवन यज्ञ होंगे और भजन कीर्तन रोजाना सवेरे शाम अबाध रूप से जारी हैं ! महिला संकीर्तन मंडलियां भागवत भजन कीर्तन आरतियां गाकर सबको निहाल कर  रही हैं ! भागवत कथा के श्री गणेश से पूर्व 27 जून को विशाल कलश यात्रा का अनूठा और दर्शनीय आयोजन किया गया ! कलश यात्रा सनातन धर्म मंदिर से शुरू होकर मुनि धर्मशाला जहां कथा श्री विराजमान हैं वहां सम्पन्न हुई ! गौरतलब तो ये है कि मुनि गौरवा नन्द जी गिरी महाराज के आस्थावानों में हर धर्म व जात सहित सम्प्रदायों के लोग शामिल हैं ! विद्द्यार्थी समाज और युवा समाज आज भी परीक्षा इंटरव्यू आदि जाने से पूर्व श्री मुनि जी समाधि स्थल पर नतमस्तक होते कभी भी देखे जा सकते हैं ! कथा के श्री समापन के बाद अटूट स्वादिष्ट भंडारे का आयोज किया जाएगा ! संत समाज की पूजा दान दक्षिणा  के पश्चात  संत भोज बरताया जाएगा ! बताते चलें श्री भागवत कथा के दौरान हजारों संत व साधु स्वादिष्ट सात्विक भोजन ग्रहण करते हैं और बुनियादी जरूरतों का सामान दक्षिणा में दानवीर भक्तों से ग्रहण करते हुए शुभ आशीर्वाद देते हैं ! साधु समाज की ये सुखदाई सेवा देखने बड़ी तादाद में जिज्ञासु जन उमड़ते हैं ! 
=========================================–
Advertisement
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close