चंडीगढ़मनोरंजनराष्ट्रीयसभी समाचारसाहित्य-संस्कार

जुल्मो सितम उस जालिम ने किया,जिसकी खातिर जुल्मो सितम सहते रहे ; आरके शर्मा विक्रमा

जुल्मो सितम  उस जालिम ने किया,जिसकी खातिर जुल्मो सितम सहते रहे ; आरके शर्मा  विक्रमा

चंडीगढ़/पंचकूला ; 28 दिसम्बर ;  आरके शर्मा विक्रमा ;  वर्ष 2018 खट्टी मीठी रसीली कटीली यादों के अमृतमयी और  विषैले घूंट देते हुए औसतन ठीक ही बीता !  नव वर्ष 2019 मंगलवार से शुरू हो रहा है शुभकामना सर्वहिताय अल्फ़ा न्यूज इंडिया की तो ये ही है कि सब का मंगल ही मंगल हो ! जा रहे और आ रहे वर्ष के नामित साहित्य पिपासुओं ने एक कवि गोष्ठी का भव्य आयोजन किया !
बीते वर्ष के लिए कड़वे अनुभवों की चाशनि को  अल्फा  न्यूज इंडिया के साहित्य प्रभारी* आरके शर्मा विक्रमा पीजीडीपीआर ने कुछ यूँ बयां किया कि “जुल्मो सितम  उस जालिम ने किया,जिसकी खातिर जुल्मो सितम सहते रहे” !
        

       नव वर्ष की पावन बेला पर पंचकूला के सेक्टर 5 में होटल शिराज 2 में काव्य गोष्ठी आयोजित हुई ,इसमें चंडीगढ़ साहित्य संवाद के प्रेम विज ,  भंडारी अदबी ट्रस्ट के जाने माने शायर  अशोक नादिर , शहर के जाने माने कवि विजय कपूर मंच संचालन कर रहे थे  व जाने माने गांधीवादी  के के शारदा अध्यक्ष गांधी स्मारक निधि पंजाब ,हरियाणा, हिमाचल प्रदेश व चंडीगढ़ की अध्यक्षता में अन्य कवियों  के साथ अन्य कवि बीते साल को विदाई के साथ साथ नए साल के आगमन की कविताओं के साथ साथ उभरती हुई कवियत्री , लेखिका,लिरिसिस्ट पूजा सैनी का गीत ” रूह दा प्यार ” को भी लांच किया गया  । कार्यक्रम की शुरुआत में मंच संचालक  विजय कपूर ने सभी स्वागत  किया। एक एक कर सभी कवियों ने अपनी अपनी रचनाओं को पेश किया बदलाव ही सच्चाई है, वर्ष आते रहेंगे जाते रहेंगे और हम नए साल के रेसोलुशन बनाते रहेंगे ,लेकिन बीते समय से सीख ले आगे सुधरने का नाम ही जिंदगी है, कहा प्रेम  विज ने । गीत रुुह दा प्यार की तारीफ करते हुए कहा कि  पूजा युवा लेखिका हैं व अपनी रचनाओं में  समाज की भलाई की बात करती हैं । 
          अल्फ़ा न्यूज इंडिया ने सब उदारचित कवियों का अभिनंदन करते हुए हार्दिक धन्यवाद भी दिया ! और नवोदित कवियत्री पूजा सैनी को शुभकामनायें दीं !

 

Advertisement
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close