चंडीगढ़सभी समाचार

निजी स्कूलों द्वारा फीसों में वृद्धि के जरिए अभिभावकों पर बोझ डालना निंदनीय: दीवान

राज्य सरकार द्वारा दी गई सख्त चेतावनी, स्वागत योग्य 

लुधियाना ;  8 अप्रैल : अल्फ़ा न्यूज इंडिया /अजय पाहवा ;—–पंजाब कांग्रेस महासचिव पवन दीवान ने निजी स्कूलों द्वारा मनमाने तरीके से फीसों में भारी वृद्धि करने सहित अलग-अलग तरीकों से मजबूर अभिभावकों पर अतिरिक्त बोझ डाले जाने की निंदा की है। दीवान ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा सख्त निर्देश देने के बावजूद स्कूल मालिकों द्वारा लगातार अपने रुख पर अड़े रहना गलत है और इस बात की वह मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह से मिलकर शिकायत करेंगे।
इस क्रम में, दीवान ने कहा कि मुख्यमंत्री ने निजी स्कूल संचालकों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि वे फीसों में अनावश्यक बढ़ोतरी करके अभिभावकों पर बोझ डालना बंद करें। यहां तक कि सरकार ने निजी स्कूलों के खिलाफ पहली शिकायत आने पर दो लाख रुपए का जुर्माना व दूसरी शिकायत पर 3 लाख रुपए तक का जुर्माना व उनकी मान्यता रद्द करने तक जैसे सख्त कदम उठाने संबंधी चेतावनी दी है, जिसका स्वागत किया जाना चाहिए। हालांकि, वह मुख्यमंत्री से पहली शिकायत में ही निजी स्कूलों की मान्यता रद्द करने की अपील करेंगे।
दीवान ने अफसोस जताया है कि बीते दस सालों में स्कूलों द्वारा अभिभावकों पर जहां भारी फीसें अदा करने का दबाव बनाया जाता रहा है। वहीं पर, उन्हें स्कूल द्वारा ही तय दुकान से कापियां-किताबें व वर्दियां इत्यादि सामान खरीदने के लिए मजबूर किया जाता रहा है, जिससे हर पक्ष से बच्चों के अभिभावकों को लूटा जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस बार भी निजी स्कूलों द्वारा ऐसी ही नीतियां अपनाई जा रही हैं, जिनका एक बार फिर से अभिभावकों द्वारा विरोध किया जा रहा है। जिस पर, दीवान ने कहा कि वह मुख्यमंत्री से निजी स्कूलों की लूट की उच्च स्तरीय जांच करवाए जाने की मांग भी करेंगे।
उन्होंने कहा कि कैप्टन अमरेन्द्र सिंह के नेतृत्व वाली पंजाब की कांग्रेस सरकार नागरिकों के साथ किसी भी कीमत पर धक्का नहीं होने देगी।
Advertisement
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close