अंतरराष्ट्रीयउत्तरी भारतचंडीगढ़नई दिल्लीराष्ट्रीयसभी समाचारहरियाणाहिमाचल प्रदेश

आतंकियों का कलेजा खाऊंगा, और 26 जवान उतारे मौत के घाट,नागरिक उठायें अब भार

 आतंकियों का कलेजा खाऊंगा, और 26 जवान उतारे मौत के घाट,नागरिक उठायें अब भार  
चंडीगढ़/नईदिल्ली : 24 अप्रैल ; आरके शर्मा विक्रमा /करणशर्मा /सुमन वैदवान :—–छत्तीसगढ़ के सूकमा जिला में नक्सली हमला करके सीआरपीएफ के 26 जवानों को मौत के घाट उतारने की दिल दहलाने वाली खबर ने देश को एक बार हिला कर रख दिया है ! अनेकों जवानो के गंभीर रूप से जख्मी होने के चलते सभी को रायपुर के रामकृष्ण केयर अस्पताल में गहन चिकित्सा हेतु भर्ती करवाया गया है ! अपुष्ट खबरों मुताबिक यहाँ भी अनेकों जवानों की दशा गंभीर बनी हुई है !  

ये इंसानियत और बहादुरी को चुनौती देती वारदात इंडिया में घटी तो दूसरी और फिलीपींस के प्रैजीडेंट रॉड्रिगो डुटर्टे ने आतंकियों के घिनौने  सितम की इंतहा होने पर बिफरते हुए  दहाड़ भरी  कि  अगर कटटरपंथी पकड़े जाएँ तो उनको सिरका और नमक लगा का ही चबा जायेंगे ! प्रैजीडेंट ने चेताते हुए स्पष्ट कहा कि अगर वो लोगों का सर कलम करने को लेकर बर्बरता भरा दिल रखते हैं तो वह [प्रैजीडेंट ] उनसे कई गुना ज्यादा क्रूर वृति के हो सकते हैं ! अगर मूड बिगड़ा तो आतंकियों को नमक सिरका लगा कर उनके कलेजा ही चबा  जायेंगे !

 देश और दुनिया में ये दो घटनाएं थोड़े से अंतराल से घटती हैं और दुनिया सहित  भारत में पसरे आतंक की गहरी जड़ों की ओर इशारा करती हैं ! सब से बड़ा इशारा हमारी एकता और इनसे निपटने को सार्थक सोच की कमी की तरफ है ! आज एक जाने माने मुल्ख का प्रैजीडेंट आतंकियों से इतना विचलित हो चूका है कि अपनी सोच और वाणी को वास्तविकता से टकराने के लिए आजाद छोड़ देता है !

  आज समूची दुनिया आतंक के भयावह पंजे में जकड़ी फरियादी बनी हुई है और दूसरे के हिस्से में अपनी सहभागिता नहीं जोड़ना चाहती है ! हर देश इस मुसीबत को झेल रहा है पर कोई संयुक्त मोर्चा नहीं बना कर उनके नापाक हौंसले को  दे रहा है ! 26 जवानों का कत्ल दुनिया की ताकत का आपसी अंतर्राष्ट्रीय संबंधों का कत्ल नहीं तो क्या है !सब से बड़ी बात है कि सुरक्षा एजेंसियों को एक जुट होकर पब्लिक का हर पहलु से समर्थन पाकर  करना होगा ! आरपार की लड़ाई हो और कोई माफ़ी मुकर्रर न हो ! कोई कोर्ट कचहरी दलील न हो सीधा मौत के बदले मौत ऐसी की दूसरा कोई हिमाकत करना तो दूर सोचने से भी उसकी रूह कांप उठे ! देश वीर ज्वायन के बलिदान को कृतज्ञ वत नमन करता है ! अल्फ़ा  न्यूज इंडिया एक और नया और अनिवार्य आह्वान करता है कि देश की एकता अखंडता और प्रभुसत्ता पर कुठाराघात करने वाले आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद होने वीर जवान के पीछे  परिवार की  देखभाल शिक्षा भरणपोषण की जिम्मेवारी नागरिक मिलकर उठाएंगे ! ताकि ये बोझा न साबित होकर सब की नैतिक जिम्मेवारी  जवाबदेही का सबब बने ! थोड़ा थोड़ा सा धन इक्क्ठा करके पिसित परिजनों को उपलब्ध करवाएं और अपने फर्ज की भी अदायगी करते रहें !  

Advertisement
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close