ग्रह-नक्षत्रधर्मसाहित्य-संस्कार

हमारा दिमाग भगवान की अनुपम कृति

संगृहीत जानकारी की पुंजी

चंडीगढ़ : 29 जून : आरके शर्मा विक्रमा प्रस्तुति :–*हमारा मस्तिष्क कितनी क्षमता का है ?*

मस्तिष्क की क्षमता अनुमानता २.५पेटाबाईट की होती है।

१ पेटाबाईट यानी १००० टेराबाई।

१ टेराबाइट =१००० जीबी (गेगा बाइट)

मतलब १६ जीबी की मेमरी रखने वालेे १ लाख ५६ हजार फोन!!!!!

मानव मस्तिष्क किसी भी संगणक की अपेक्षा अधिक तेजी से काम करता है।

हमारा मस्तिष्क एक सेकेंड में ३८ हजार ऑपरेशन कर सकता है। इससे यह स्पष्ट होता है कि मानव मस्तिष्क की क्षमता संगणक की अपेक्षा अत्याधिक है।

मस्तिष्क की सभी रक्त वाहिनियों को एक के बाद एक फैलाया जाये तो एक लाख मील तक फैल सकती हैं अर्थात पृथ्वी की चार प्रदक्षिणा (चार घेर) कर सकती हैं।

हमारे मस्तिष्क में १०००० करोड़ मज्जापेशी (न्यूरॉन्स) होते हैं।

*परन्तु इतने जटिल और शक्तिशाली मस्तिष्क को स्वस्थ्य रखने के शुद्ध एवं सात्विक आहार जरूरी है !*

~ *जर्दा (तम्बाखू) , बीड़ी , सिगरेट , मद्य (शराब) अखाध्य सामग्री – फास्ट फूड , जंक फूड , स्पाइसी फूड , प्रजर्वेटिव फूड !*

*मस्तिष्क के तन्त्रिकातंत्र को नुकसान पहुँचाने के साथ स्थाई ख़राबियाँ उत्पन्न कर देते हैं , जिससे जीवन के समक्ष संकट उत्पन्न हो जाता है !*

Advertisement
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close