खेल-कूदहिमाचल प्रदेश

ओलंपिक दिवस आयोजन पर खेलों के प्रति किया प्रोत्साहित

शिमला : 23 जून : आरके शर्मा विक्रमा प्रस्तुति :—-युवा पीढ़ी को नशे से दूर कर व्यक्तित्व विकास के लिए खेल तथा खेल से जुड़ी संस्थाएं महत्वपूर्ण योगदान प्रदान कर रही है। यह बात आज शिक्षा, विधि एवं संसदीय मामले मंत्री सुरेश भारद्वाज ने ओलम्पिक दिवस के अवसर पर रिज मैदान पर आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कहे।

सुरेश भारद्वाज ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा खेल नीति के तहत बजट के अतिरिक्त समग्र शिक्षा अभियान के अंतर्गत गत वर्ष 11.50 करोड़ रुपए की राशि प्रदान की, जबकि इस वर्ष भी 11.50 करोड़ रुपए की राशि खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश में प्राथमिक विद्यालयों से वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों तक प्रदेश के स्कूलों में दी जा रही है। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग के साथ-साथ खेलों से जुड़ी विविध संस्थाएं तथा ओलम्पिक ऐसोसिएशन संयुक्त रूप से नीति तैयार कर स्कूली, महाविद्यालय तथा विश्वविद्यालय स्तर के खिलाड़ियों को आगे लाने के लिए कार्य करें। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में खेल केवल विषय न होकर रोजगार प्राप्त करने का एक उचित साधन तथा स्वस्थ शरीर के साथ-साथ नशा मुक्ति के लिए भी एक कारगर उपाय है।

उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हर आयु वर्ग और लिंग के लोगों की भागीदारी को खेलों में बढ़ावा देने के लिए ओलम्पिक संघ की स्थापना की गई थी। उन्होंने कहा कि ओलम्पिक डे आज केवल उत्सव न बनकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खिलाड़ियों को खेल के प्रति सही दृष्टिकोण अपनाने, परस्पर आदर-भाव तथा खिलाड़ियों में खेल भाव की भावना पैदा कर रहा है। उन्होंने आज हिमाचल प्रदेश ओलम्पिक ऐसोसिएशन द्वारा आयोजित दौड़ को रिज से रवाना किया, जो खेलों के प्रति समग्र भाव का संदेश संप्रेषित करती है।

राज्य ओलम्पिक ऐसोसिएशन के उपाध्यक्ष एवं ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, पशुपालन एवं मत्स्य पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने खेल जगत से जुड़े खिलाड़ियों को शुभ कामनाएं देते हुए कहा कि प्रदेश में जिला व अन्य स्तरों पर भी इस प्रकार के आयोजन किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ये दिवस समाज के नौजवानों के अंदर खेलों के प्रति रूझान पैदा करने का दिन है। उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्री के नेतृत्व में ओलम्पिक संघ व शिक्षा विभाग संयुक्त रूप से खेलों को बढ़ावा देने के लिए कार्य करेगा। उन्होंने कहा कि नशा निवारण की भावना को बढ़ावा देने के लिए और युवाओं की शक्ति को रचनात्मक कार्यों की ओर केन्द्रित करने के लिए संयुक्त रूप से विचार किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि आज के इस आयोजन में विविध खेलों से संबंधित 650 खिलाड़ियों ने इस जागरूकता रैली में भाग लिया, जिसमें विभिन्न स्कूलों के 450 छात्र-छात्राएं, बास्केट बाॅल के 45 खिलाड़ी, साईकलिंग खेल के 25, बाॅक्सिंग के 37, कराटे के 45, ताईक्वांडो के 50 तथा अन्य खेलों से जुड़े खिलाड़ियों ने भाग लिया।

कार्यक्रम में जुड्डो व कराटे संघ से जुड़े खिलाड़ियों द्वारा विभिन्न क्रियाआंे तथा व्यायामों का प्रभावपूर्ण प्रदर्शन किया गया।

इस अवसर पर राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पोर्टमोर की छात्राओं द्वारा नशावृति के कूप्रभाव व इससे बचाव के संबंध में भावपूर्ण नुक्कड़-नाटक प्रस्तुत किया गया।

हिमाचल प्रदेश ओलम्पिक ऐसोसिएशन के महासचिव राजेश भण्डारी ने मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए प्रदेश में ऐसोसिएशन द्वारा की जा रही विभिन्न गतिविधियों के संबंध में जानकारी दी।

इस अवसर पर सचिव युवा सेवा एवं खेल विभाग दिनेश मल्होत्रा, निदेशक युवा सेवा एवं खेल विभाग एवं सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग हरबंस ब्रासकाॅन, ओलम्पिक ऐसोएिशन के पदाधिकारी ईश्वर रोहाल, अजय सूद, रमेश चैहान तथा मीडिया सचिव मोहित सूद भी उपस्थित थे।

.

Advertisement
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close