उत्तरी भारतउद्योग जगतचंडीगढ़पंजाबरोजगारहरियाणा

मेवे और मसालों के नाम पर लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी करने वाले फरार

पुलिस की छापेमारी व गिरफ्तारी की इंतजार भी जारी

चंडीगढ़/नोएडा :- 24 जनवरी: अल्फा न्यूज इंडिया डेस्क:– पुलिस मेवे और मसालों के नाम पर देशभर के लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी करने वाले गिरोह के फरार आरोपियों की तलाश में लगातार छापेमारी कर रही है! लेकिन आरोपियों का कोई सुराग नहीं लगा है। 12 जनवरी को सेक्टर-58 पुलिस ने सेक्टर 50 मेघदूत सोसाइटी निवासी मोहित गोयल और राजस्थान के जयपुर निवासी ओमप्रकाश जांगिड को गिरफ्तार किया था। दोनों आरोपी सेक्टर-62 स्थित कोरेंथम टावर में दुबई ड्राई फ्रूट्स एंड स्पाइस हब नाम से फर्जी ट्रेडिंग कंपनी बना रखी थी। फर्म संचालकों का विश्वास जीतने के लिए करीब 40 प्रतिशत कैश एडवांस के रूप में दे देते थे। फिर उनसे लाखों रुपये के मेवे व अन्य सामान लेकर पैसे नहीं देते थे। अब पुलिस ने आरोपी मोहित गोयल द्वारा रिमांड के दौरान दी गई जानकारी के आधार पर छापेमारी कर रही है। ताकि फरार आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ा जा सके। मोहित ने कई आरोपियों के ठिकानों के बारे में पुलिस को जानकारी दी है। इसके तहत पुलिस की अलग अलग टीमें दिल्ली,हरियाणा और राजस्थान में दबिश दे रही है। लेकिन जम्मू कश्मीर पंजाब हरियाणा चंडीगढ़ आदि में अभी भी केरल के ड्राई फ्रूट्स सस्ते दामों पर अच्छी क्वालिटी के बताकर होम डिलीवरी देने का मकड़जाल पुलिस के लिए एक नई मुश्किल पैदा कर रहा है लेकिन पुलिस के गुप्त विभाग के मुस्तैद अधिकारी और कर्मचारी इन लोगों पर अभी सिर्फ नजर रखे हुए हैं और इनके पूरे मकड़जाल के एड्रेस ऊपर भी ध्यान दिया जा रहा है दूसरी ओर इसी तरह ड्राई फ्रूट्स के नगद ऑनलाइन पेमेंट लेकर होम डिलीवरी देने वाले केरल के ड्राई फ्रूट्स के विक्रेता अपना काम धंधा अभी तक इमानदारी से जारी रखे हुए हैं। चंडीगढ़ में मार्केट रेट से कहीं कम रेट में सेक्टर 17 जो पूरी तरह से बिजनेस सेक्टर है। बैंकों और बड़े दफ्तरों के बाहर ड्राई फ्रूट्स बेचने वालों की कतारें देखी जाती हैं। इनकी संपदा विभाग या नगर निगम कितने रुपए की पर्ची काटता है यह सब बंटाधार ही लगता है। बैंकों के और सरकारी दफ्तरों के आगे ऐसे ड्राई फ्रूट बेचने वालों के अतिक्रमण से बरामदों में आवागमन बुर तरह से चौपट होता है।

साभार हिंदवतन न्यूज ।।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close