खेल-कूदचंडीगढ़मनोरंजनसेहत

भारत का हर छठा शख्स तनावग्रस्त – डॉ सीमा वाधवा 

सुखना लेक में  शिकारा राइड का  मकसद था तनाव मुक्त होना   

 चंडीगढ़  : 17 मार्च : आरके शर्मा विक्रमा /कर्ण शर्मा ;—– रविवार को सुबह 11.30 बजे से  चंडीगढ़ की सुखना लेक क्लब  में *पहली बार स्ट्रेस बस्टर होली का आयोजन हुआ  ,केमिकल व पानी रहित होली ,सिर्फ फूलों से खेली गयी, वह भी शिकारे की सैर के दौरान व राधा कृष्ण जी की झांकी के साथ नृत्य करते हुए* ,मीट अप क्लब व कुछ प्रेग्नेंट व हाल ही में मां बनी महिलाओं को स्ट्रेस फ्री रहने पर शहर की जानी मानी गाइनिकॉलजिस्ट डॉ सीमा वाधवा  द्वारा  एक्सक्लुसिव सेशन का भी लाभ लिया   और होली समारोह का मकसद तनावग्रस्त से तनावरहित भी पूरा हुआ  । 
 
डॉ सीमा वाधवा ने कहा आजकल युवतियां घर व बाहर दोनों ओर की जिम्मेदारी निभाने के चक्कर में चाहे अनचाहे तनाव का शिकार हो जाती है , ऐसे में न तो उनको इतना समय मिल पाता है कि अपनी भी देखभाल कर पाएं । हालांकि योग , मेडिटेशन , प्राणायाम के जरिये कई बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है ।
 
डॉ सीमा वाधवा ने बताया  कि तनाव का असर मां पर भी पड़ता है, तनाव की वजह से मां का रक्‍तचाप सामान्‍य से ज्‍यादा हो सकता है। इसके अलावा गर्भावधि मधुमेह भी तनाव की वजह से हो सकता है। तनाव प्रीटर्म प्रसव के लिए भी जिम्‍मेदार है।
 
महिलाएं पहले तो  तनाव झेलती हैं, बाद में उनका स्वास्थ्य खराब रहता है. ऐसे में बच्चों में खासतौर पर आयरन की कमी देखी जाती है. !!
Advertisement
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close