उत्तरी भारतचंडीगढ़धर्म

मुनि  मंदिर में वार्षिक क्रमवार तीन  रोजा भागवत कथा सम्पन्न 

तीन दिवसीय मद्भागवत कथा का श्री समापन

ट्राइसिटी ; 28 फरवरी ; आरके शर्मा विक्र्मा ;—- देश विदेश में अपने  अटूट आस्था और निष्ठां रखने वाले  
मुनि शिष्यों के परमध्येयनीय गुरुश्रेष्ठ ब्रह्मलीन 108 मुनि गौरवानन्द जी गिरी महाराज की सद्प्रेरणा से निर्मित महावीर हनुमान मंदिर यानि मुनि मंदिर सेक्टर 23 डी में हर साल की भांति होने वाला तीन दिवसीय [26-27-28/02/2019] मद्भागवत कथा का श्री समापन बड़ी ही शांतिपूर्वक हर्षोल्लास भरी सुव्यवस्था में हुआ ! इस बाबत अधिक जानकारी देते हुए मुनि महाराज जीके अनन्य भक्त और मंदिर के  पुजारी पंडित दीपराम जी ने बताया कि हर साल फरवरी के अंतिम तीन दिन मद्भागवत कथा का आयोजन किया जाता है !  गत वर्ष की तरह इस मर्तबा भी पठानकोट वाले  युवा कथावाचक अतुलकृष्ण शास्त्री जी ने बड़े ही सरल और सहज शब्दों में कथा का लाभ और आत्मिकता का बोध करवाते वाक्यों मे भागवत कथा श्रवण करवाई !  पंचकूला व् मोहाली सहित चंडीगढ़ के सैंकड़ों आस्थावानों ने कथा का खूब धरमवत लाभ कमाया ! मुनि मंदिर सभा के प्रधान दलीप चाँद गुप्ता ने दानी सज्जनों के नामों की मंच से ज्यों ही घोषणा की तो अनेकों गुप्त दान करने वाले मौके पर ही जुटे ! और दिल खोल कर दान  राशियां  भेंट कीं ! होली को समर्पित अंतिम दिन की कथा राधा श्याम जी के मनोहारी श्री दर्शनों की महिमा बखानी के साथ अतुल कृष्ण जी ने कही तो  नरनारी खुद को नृत्य में थिरकने से रोकने में शत प्रतिशत नाकाम रहे ! फूलों की होली खेली गई ! फलों के प्रसाद की वर्षा हुई तो हर किसी ने मधुर बंसी बजाने वाले  झोली फैला दी ! राधे रमन घनश्याम के भजनों पर सब झूमे और झोलियाँ भरके मन्नतों मुरादों की ले गए !   फरवरी से शुरू हुए उक्त तीन दिवसीय भगवत कथा का श्रवण करने के लिए  आगे और हरियाणा सहित पंजाब प्रदेशों केअनेकों जोळींब सेगुरु जी शिष्य अपने परिजनों सहित आये  भगवत कथा के समापन  पर ही वापस अपने अपने घरों को लौटे! 
Advertisement
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close