उत्तर प्रदेशउत्तरी भारतचंडीगढ़धर्म

मिथुन तीन साल के बच्चे से कुकर्म करते गये धरे

लचर कानून ही इन सब का गुनाहगार : आम रियाया

चंडीगढ़ /दिल्ली : 17 जून : आरके शर्मा विक्रमा +सुमन वधावन (प्रस्तुती) :—-विकसित व विकास शील देशों की जमात में खडे होने की होंद में आज इंसान अंधा होकर व्याभिचारी बलात्कारी बन चुका है।। कानून नाम की कोई बात नहीं रही है। कई. जगह तो वर्दी में पुलिस पिटती नजर आती है तो कहीं अपराध होते मूकदर्शक बन देखती है।।

कुकर्मों का यह निंदनीय शर्मनाक व सोचनीय विषय गहराता जा रहा है।। एक बात समझ नहीं आती है कि आखिर लोगों की मानसिकता इतनी कैसे गिर सकती है| लोग हवस के आगोश में इसकदर डूब चुके हैं कि छोटे-छोटे मासूम बच्चों को अपनी हवस का शिकार बना रहे हैं| ताजा मामला नोएडा से सामने आया है, यहां दरिदंगी का वो दृश्य देखने को मिला है, जिससे मानवता शर्मसार हो गई है| दरअसल यहां एक रिक्शा चालक को तीन साल के एक मासूम बच्चे के साथ कुकर्म करते पकड़ा गया है| बतादे कि इस हैवानियत की घटना को अंजाम देते हुए रिक्शा चालक को बच्चे के माता-पिता ने रंगे हाथ दबोचा है| फिलहाल रिक्शा चालक को पुलिस के हवाले कर दिया गया है|जहां पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा-377,511 और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्जकर आरोपी को जेल भेज दिया है| पुलिस की जांच में आरोपी की पहचान मिठुन दास के रूप में हुई है|

पुलिस ने इस मामले में ज्यादा जानकरी देते हुए बताया कि नोएडा के फेज-दो क्षेत्र के एक गांव में एक परिवार अपने तीन साल के बच्चे के साथ रहता था| लेकिन यह परिवार वहां से सेक्टर-108 में अपना सामान शिफ्ट कर रहा था|इस काम में गांव के पड़ोस में रहने वाला आरोपी मिठुन दास सहयोग कर रहा था|पुलिस ने बताया कि जब बच्चे के माता-पिता शिफ्टिंग के दौरान अपना सामान सेट कर रहे थे, तभी उनका तीन साल का बेटा आंखों से ओझल हो गया| बच्चे को न पाकर माता-पिता घबरा गए और उसकी तलाश करने लगे…. माता-पिता बच्चे को तलाश ही रहे थे कि तभी उन्होने कुछ ऐसा देखा कि वह सन्न रह गए| दरअसल आरोपी रिक्शा चालक मिठुन दास उनके बच्चे के साथ गंदी हरकत कर रहा था|।   जनता का गुस्स भभरपूर उफान पर है पर पुलिस स्थिति को कंट्रोल करने की कोशिश में है।। लोगों का गुस्सा विस्फोटक बनता जा रहा है जोकि कभी भी कहीं भी ज्वाला मुखी बन विध्वंस कर सकता है।।

Advertisement
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close