चंडीगढ़सेहत

आयुर्विज्ञान में हर्निया की सर्जरी नहीं बल्कि वटी औषधि चिकित्सा है उपलब्ध:– डॉक्टर कैलाश शर्मा पाटोदा

चंडीगढ़:- 23 नवंबर;- आरके विक्रमा शर्मा/ एडवोकेट विनीता शर्मा:— राजस्थान के जाने-माने आयुर्विज्ञान के ज्ञाता वैद्य डॉक्टर कैलाश चंद शर्मा पाटोदा अक्सर असाध्य रोगों की अनिवार्य और बुनियादी जानकारी, चिकित्सा, लक्षण व बीमारी बनने के कारण और उनका सरल, सहज आयुर्विज्ञान के मुताबिक निवारण अल्फा न्यूज़ इंडिया के माध्यम से लाखों पीड़ितों प्रभावित रोगियों को उपलब्ध करवाते हैं

और वैद्य कैलाश चंद शर्मा पाटोदा द्वारा सुझाए गए नुक्ते और नुस्खे अक्षरत सफल फलदाई साबित होते हैं। इस बार डॉ कैलाश शर्मा पाटोदा हर्निया की आयुर्विज्ञान के मुताबिक चिकित्सा परामर्श सुझा रहे हैं। आशा अनुरूप सभी पीड़ित स्वयं लाभ लेकर दूसरों को लाभ देने की मंशा से यह लेखन सामग्री आगे से आगे प्रचारित और प्रसारित करते रहेंगे।

1.     बृद्धिवादिका वट्टी

2. 2 पानी से

2. आरोग्यवर्द्धनी वट्टी

2. 2 पानी से

3.   कांचनार गुगुल

2. 2 पानी से।।।।

बड़ी बीमारी में यानी कि उम्र दराज और अन्य असाध्य लाइफटाइम बीमारियों में सर्जरी संभव नहीं रहती है तो ऐसे में आयुर्विज्ञान का यह औषधि नुस्खा कारगर साबित होता है और धीरे-धीरे हर्निया की दर्द से भी काफी अच्छी राहत भी मिलती है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close