उत्तरी भारतकृषिझारखंड

तीन भारी-भरकम गुस्सैल दंतैल हाथियों से निपटने के लिए वन विभाग की टीमें हाथियों सहित मुस्तैद

गरियाबंद:- 7 अगस्त:- अल्फा न्यूज इंडिया डेस्क प्रस्तुति:– जिले के छुरा वन परिक्षेत्र के ग्राम पांडुका में 3 दंतैल हाथियों ने फिर आमद दे दी है. धमतरी जिले से पैरी नदी को पारकर गांव से लगे जंगलों में वापस लौट आए हैं. इससे इलाके में दहशत का माहौल बना हुआ है. बता दें कि ये वही दंतैल हाथी हैं, जिन्होंने 2 माह पूर्व इस क्षेत्र में भयंकर उत्पात मचाया था. लोगों के खलिहान में रखे अनाज को नष्ट कर दिया था. वन विभाग की टीम लगातार हाथियों की निगरानी कर रही है।। स्थानीय लोगों का कहना है कि जब यह भारी भरकम शरीर वाले धनतल हाथी बिगड़ते हैं तो चारों तरफ तबाही मचाते हैं ऐसे मन को काबू करना बेहद मुश्किल हो जाता है इसलिए गांव वाले दहशत में आए हैं।

वहीं आसपास के 10 गावों में अलर्ट जारी किया गया है. पूरा मामला राजिम के पांडुका वन परिक्षेत्र का है. जहां पर धमतरी जिला की ओर से पैरी नदी को पार कर तीन दंतैल हाथियों का समूह खेतों के रास्ते गांव से लगे हुए जंगल मे प्रवेश किया है. वन विभाग पाण्डुका की टीम हाथी मित्रों के साथ मौके पर मौजूद है. वहीं आस पास के 10 गांवों में मुनादी कर अलर्ट जारी किया गया है. जंगल के समीप वर्ती  ग्रामों में मुनादी कर ग्रामीणों को जंगल की ओर जाने में सख्ती से पाबंदी लगाई गई है। स्थिति नियंत्रण में है और वन विभाग की टीम में तीनों गुस्सैल धनतल हाथियों पर निगाह टिकाए हुए हैं हर तरफ से मुस्तैदी बरती जा रही है और किसी भी प्रकार की अप्रिय हिंसक घटना से निपटने के लिए हाथियों की टीम के साथ वन विभाग की टीम जो करना है गांव वालों ने भी वन विभाग की टीमों को हर तरह की मदद का आश्वासन दिया है लोगों में दहशत फैली हुई है लेकिन लोगों को विश्वास है कि वन विभाग की टीम में उनके जाने और माली नुकसान ना होने देने के लिए तत्पर है।

 

 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close